Kyc कैसे करें 2022 | Bank KYC Kya Hai 2022

आइये इस पोस्ट में जानते है की Bank KYC Kya Hai और साथ ही जानते है की बैंक KYC क्यों कराती है, KYC का Full Form क्या है. तो इस पोस्ट को अंत तक जरुर पढ़े क्यों की मैं आपको KYC क्यों करना जरुरी होता है इससे जुडी बहुत सारी बाते बताऊंगा.

Bank KYC Kya Hai

KYC Kya Hain ( केवाईसी क्या है )

  • KYC ( Know Your Customer ) : केवाईसी का बतलब ही होता है की अपने ग्राहकों को जाने, जी हा दोस्तों KYC के जरिये बैंक अपने ग्राहकों को जनता है और उसे पहचानता है की उनकी फाइनेंसियल कंडीसन क्या है और उनकी लेन देन किस प्रकार की है.
  • Kyc को BR Act 35 के के तहत जरी किया गया है
  • इसे FATF ( Financial Action Task Force ) के द्वारा शिफारिस कर मंगाया गया.
  • इसका उपयोग कस्टमर के लेन देन के साथ साथ उनकी अन्य गतिविधियों पर भी ध्यान रखा जाता है जैसे : Money Laundry, Financial Terrorisms आदि.

Bank KYC करने का उदेश्य

दोस्तों आप इस पोस्ट में ऊपर जाने की Bank KYC Kya Hai, और आइये अब जानते है की बैंक KYC क्यों कराती है, Kyc कराने का उदेश्य क्या है.

  1. सबसे पहले बैंक को KYC करने का उदेश्य यह है की वह AML ( Anti Money Laundering ) को रोक सके ताकि कोई भी व्यक्ति अपना लगत पैसा को रियल पैसा बना न सके | जिसे ब्लैक मनी को वाइट बनी बनाने से रोकता है KYC का की एक भूमिका है.
  2. दूसरी है CFT ( Combating Finance Of Terrorism ) : इसके जरिये सरकार आतंकी साजिस के लिए जोभी लेन देन हो उसे रोका जा सके इस लिए KYC करना होता है.
  3. तीसरा कार्य अपने कस्टमर को पहचाना और उसे समझने के लिए Kyc क्या जाता है.
  4. चौथा उदेश्य यह है की Kyc करने के कारन भविष्य में होने वाले जोखिम से कैसे बचे उसके लिए KYC जरुरी है.

खता खोलते समय अगर पैन न हो तो क्या करें

  • Income Tax Act 114B के अनुसार अगर आप कसी बैंक में खता खोलते है तो आपको पैन देना होता है अगर आपके पास पैन न हो तो आप फॉर्म 60 भर कर अपना खता खोल सकते है.
  • लेंकिन अगर आप फॉर्म 60 से खता खोलते है तो इनकम टेक्स के अधिनियम के अनुसार आपका वार्षिक आय 2 लाख 40 हजार से ज्यादा नहीं होना चाहिए.
  • अन्यथा आपको किसी भी हल में बिना पैन कार्ड के आपका खता नहीं खुल सकता है.
  • अतः अगर आपका वार्षिक आय 240000 से कम हो तो आप बिना पैन के अपना खता खोलवा सकते है फॉर्म 60 के सहायता लेकर.

बैंक कितने दिनों के बाद KYC करती है | How May Days After Bank Re-KYC Of Customer

बैंक कस्टमर को अलग अलग ग्रेड में बाटी हुई है जिसे अलग अलग समय पर KYC का डिमांड बैंक कराती है जो की कुछ इस प्रकार है.

कस्टमर प्रकार Time of Re-KYC
High Risk CustomersAfter 2 Years
Medium Risk CustomersAfter 5 Years
Low Risk CustomersAfter 10 Years

CKYC Kya Hai | सी-केवाईसी क्या है

CKYC ( Central KYC ) : यह एक वितिये क्षेत्रो में ग्राहकों के KYC के अभिकृत भंडार है, अगर आपके पास CKYC नंबर हो तो आपको किसी भी फाइनेंसियल संस्थाओ में दुबारा केवाईसी देने का जरुरत नहीं पड़ता है.

Kyc कैसे करें ऑनलाइन/ ऑफलाइन

  • सबसे पहले आपका जिस बैंक में अकाउंट होता है उस बैंक में जाना होता है.
  • उसके बाद वहा के मैनेजर या बैंक के स्टफ से केवाईसी फॉर्म लेना होता है
  • केवाईसी फॉर्म को सही से अपने डॉक्यूमेंट के अनुसार भरना होता है
  • केवाईसी फॉर्म के साथ अपना आईडी प्रूफ और एड्रेस प्रूफ को लगायेंगे
  • सभी डॉक्यूमेंट और फॉर्म पर अपना हस्ताक्षर कर बैंक में जमा करा देंगे

इस प्रकार आप बैंक में केवाईसी कर सकते है और अपने अकाउंट को सही से चला सकते है तथा समय पर अपना पैसा को जमा या निकासी भी कर सकते है.

Bank KYC Kya Hai से सम्बंधित सवाल और जबाब ( FAQ )

Q. KYC का Full From क्या होता है

Ans. दोस्तों क्या आप KYC Ka Full Form जानना कहते है , तो आइये आपको बताता हु की KYC का मतलब क्या होता है.
KYC का मतलब ( Know Your Customer ) अर्थात अपने ग्राहक को जाने.

Q. बैंक में हाई रिस्क में कौन कौन सा अकाउंट आते है?

Ans. High Risk Account जिसकी री-केवाईसी हर दो साल में एक बार होना जरुरी होता है, इस तरह के अच्कोउन कुछ इस प्रकार है.
NRI Account,
Political Account,
NGO Account,
Trust Account,
Club Account,
etc.

E-KYC क्या है.

ई-केवाईसी ऐसी प्रक्रिया है जिसकी मदत से आप अपने वेरिफिकेशन ऑनलाइन अर्थात नेट के मदत से करा सकते है जिसमे आपको आधार कार्ड बहुत ही कारीगर है. अगर आप किस भी कार्य को ई केवाईसी के जरिये कराते है तो आपको हार्ड कॉपी नहीं देने होते है और आपका हर कर सीघ्र ही हो तजा है.
अतः ई केवाईसी बहुत ही अच्छा राह है जिसके जरिये आप अपना कार्य जल्द से जल्द करा सकते है.

इसे भी जरुर पढ़ें

आपको मेरे पोस्ट को अंत तक पढ़ने के लिए धन्यवाद आपका दिन शुभ हो ( Have A Good Day )

ऊपर जीतनी भी जानकारी दिए गए है वह RBI के ऑफिसियल वेब्स्सैत से लिए गए है यदि पोस्ट लिखने में कोई गलती टाइप हो गई हो तो इसके लिए मैं माफ़ी चाहता हु.

The Author

Bashisth Singh

मैं वशिष्ठ सिंह पेशे से एक बैंक कर्मचारी हूँ, साथ ही मुझे लिखने का भी शौक है। इस ब्लॉग पर मैं Howto, Tech और एजुकेशन वाले आर्टिकल शेयर करता हूँ.

Leave a Reply

Your email address will not be published.